26/9/10

थोड़ा धीरे बड़ी हो…Thōdā dhīrē badī hō...

स्तुति , ज्योत्सनिका , आरुशी, भरत तिवारी Stuti Jyotsnika Aarushi Bharat Tiwari



10 टिप्‍पणियां:

  1. नहीं मेरी जान !
    तुम खूब बडी हो जाओ। इतनी बडी हो जाओ कि पैसे की लालच में बेहद स्वार्थी और निर्मम हो चुकी इस दुनिया के हर बिकाउ मगर खुद को बहुत बडा समझने वाले इंसान को अपने छोटेपन का एहसास तो हो !
    तुम बडी हो जाओ और हर चुनौती का सामना करो, अपना हौसला दिखाओ, क्षमता का प्रदर्षन करो ताकि वे “ार्म से गड जाएं जो तुम्हारी जैसी बेटियों को पैदा होने के पहले ही तुम्हें तुम्हारी मां के पेट में ही खत्म कर डालने पर आमादा रहते हैं।
    इतनी बडी बनो कि लोग अपनी बेटियांे को तुम्हारी जैसी बनाने की कल्पना करने लगें।
    इतनी बडी बनो ताकि लोग दहेज के बजाय तुम्हारी काबिलियत को सराहें, चाहें, पूजें।
    इतनी बडी बनो ताकि जब तुम मां बनो तो उस फर्क को स्वीकार करने से साफ इनकार कर दो, जो तुम्हारे जैसी महिलाओं पर थोपा जाता है ताकि वे अपने गर्भ का लिंग परीक्षण करायें ताकि यदि गर्भ में पल रहा भू्रण कन्या हो तो उसे फौरन खत्म कर दिया जाए।
    आई लव यू मेरी बिटिया!
    खूब बडी हो जाए मेरी बेटियां !
    दुनिया की सारी बेटियां !
    आई लव बेटियां ।
    तुम्हें अपने सीने से लिपटा लेने को बचैन तुम्हारा पापा
    कुमार सौवीर

    उत्तर देंहटाएं
  2. भारत जी ....“काहे को बियाहे ….” आप ने आपने दिल के सब बनते को आज बहार निकाल दिया है इस कवीता में ....मैं भी कभी कभी इसी सोच में डूब जाता हूँ .....पर पराया धन .,इसी को संभालना तो होगा ही ...और बीदा भी करना पड़ेगा ....पर में ये आज सोच कर कभी कभी दुखी भी होता हूँ और सोचता हूँ की में इसको पुरे आपने जीवन की कुछ ख़ुशी में कमी तो नहीं रह गई है कही पर खेर .......आप ने दिल के आज फिर एक तर को छेडा है जो कई देनो तक दिल में बजता ही रहे गा ......... और मुझे भी कुछ अपने अलग angel पर सोचने पर विवास किया .......सुन्दर रचना जी ..

    उत्तर देंहटाएं
  3. Bhai.. bohot emotional hai.. main iss duvidha se bach gaya.. meri beti hai hi nahin.. lekin sach bolo toh bitiya ka hona zindagi ka ek doosra hi matlab sikha deta hai..

    As always.. badhiya work bhai.. God Bless you...

    Rafiq Lasne

    उत्तर देंहटाएं
  4. pita hona aur vah bhi bitiya ka --isse sukhd kuch bhi to nahi. Bharat ji ne bhut pyari kavita likhi hai.. bdhai.

    उत्तर देंहटाएं
  5. beautiful emotional rendering!
    it left me with moist eyes.......
    best wishes!

    उत्तर देंहटाएं
  6. बेनामी8:42 pm, मई 10, 2011

    be blessed.....

    BITIYA darling.........

    sadaan salamat or khush raho

    loves

    naSim

    उत्तर देंहटाएं
  7. beautiful...so emotional...sach betiyan bahut jaldi badi ho jaati hain...

    उत्तर देंहटाएं
  8. Hii.....moti ki tarah piroya hai..its a speacial realtion btwn Dad n beti..sabse special..touched!!!

    उत्तर देंहटाएं

स्वागत है

नेटवर्क ब्लॉग मित्र