2/1/11

तुमने भरी मुस्कान जिन हवाओं में



READ....     तुमने भरी मुस्कान जिन हवाओं में
अपनी प्रतिक्रिया ज़रूर दे ... Do Please Give your comment

1 टिप्पणी:

  1. मेरी इन किस्मतों को दिया रंग तूने,
    जी ली ज़िंदगी बस तेरी दुआओं में।

    अदभुत भरत जी ...
    इसके आगे अब शब्द नहीं हैं मेरे पास ...

    उत्तर देंहटाएं

स्वागत है

नेटवर्क ब्लॉग मित्र