17/6/11

ब्लैक एंड व्हाइट

Painting: JOSEPH SEVERN / Source: Internet

 

देखते रहो

सारे रंगों को

इन तस्वीरों मे सिर्फ तुम्हे ही रंग दिखते हैं

कितना भी पुराना हो जाये

ब्लैक एंड व्हाइट तस्वीरों का ये एल्बम

तुम्हारे बालों का रंग सफ़ेद नहीं होने देगा

 

सब के लिये कमीज़ का रंग सफ़ेद होगा

तुम्हे वो आसमानी ही दिखेगी

तुम्हारी पहली कमाई की है , है ना ?

तुम्हे इन स्वेत श्याम तस्वीरों मे दिखेगा

वो सिन्दूर जिसे डालते समय तुम्हारा चेहरा भी लाल हो गया था

 

तुम तो बात भी कर लेते हो इनसे...

बेजान दूसरों के लिये ही हैं

तुम तो सुन लेते हो

हर बार

उस पेज मे दबी से आवाज़

“आप सिर्फ फोटो ही खींचते रहेंगे ?”

और फिर

“मेरी फोटो अच्छी नहीं आती, रुकिए मैं बाल तो सही कर लूँ “

तुम महसूस भी कर लेते हो

आज भी तुमने उन बालों पर हाथ फेरा

वैसे ही जैसे तब नैनीताल मे फेरा था

“लाओ मै ठीक कर देता हूँ”

और आज भी रुक गये

“रुकिये ! क्या करते हैं आप, सब देख रहे हैं”

 

वो यादें कभी रंग नहीं बदलती

जो ब्लैक एंड व्हाइट मे सम्हाली हैं

उनका रंग बदलेगा, तब

जिस क्षण तुम सफ़ेद हो जाओगे...

 

भरत तिवारी,

नई दिल्ली,

१७/०६/२०११

०४:१५

2 टिप्‍पणियां:

  1. ब्लैक एंड व्हाइट तस्वीरों का ये एल्बम
    तुम्हारे बालों का रंग सफ़ेद नहीं होने देगा
    yaadon ke album mein tum wahi rahogi, bahut achhi rachna

    उत्तर देंहटाएं
  2. श्वेत-श्याम रंगों के इस कोलाज़ में भावों की शफ्फाक कारीगरी तो कोई आपसे सीखे....वाकई उम्दा रचना. आभारी सम्मानीय भारती भाई जी ! नमन !!

    उत्तर देंहटाएं

स्वागत है

नेटवर्क ब्लॉग मित्र