2/6/11

Tumne aankhoN me saare jawab rakhe haiN / तुमने आँखों में सारे जवाब रक्खे हैं

Shi Shi Beach, Olympic National Park, Washington, United States

tumne aankho me saare jawab rakhe hain HINDI

tumne aankho me saare jawab rakhe hain ROMAN

Dastakaar

13 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुन्दर भावों से सजी हुई कविता कही है भरत भाई - बधाई स्वीकार करें !

    उत्तर देंहटाएं
  2. योगी भाई बहुत बहुत शुक्रिया ...

    उत्तर देंहटाएं
  3. Bharat ji bahut sundar kahtey hain aap ..aapki har rachana behtar hai ..badhai seekaren ..

    उत्तर देंहटाएं
  4. Bharat ji ..aapki har rachna behtar hai ..sundar rachnaon ke liye badhai

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत अच्छा लिखा है भारत भाई......!हमने भी बहुत से सामान रखे है...पर क्या करें वो आये ही नही जिनके लिए अरमान रखे है ....

    उत्तर देंहटाएं
  6. its so beautiful,so romantic,simply superb and awesome......

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत सुन्दर कविता ..जिस तरह से दूरी में भी नजदीकियों का एहसास जताती हैं ..बहुत खूब ..हुनुरबंद

    उत्तर देंहटाएं
  8. कविता के भाव निराले हैं. अच्छी कविता के लिए बधाई स्वीकार करें.

    उत्तर देंहटाएं
  9. तुमने आँखों में सारे जवाब रक्खे हैं
    पढ़ने के सलीके हमने सीख रक्खे हैं
    .........................



    कोई मिलना भर ही मोहब्बत नहीं होती

    .....................................

    रूह से रूह मिला फिर रब के हो रखे हैं ...............''राज़-ए-उल्फत''...बहुत खूब !!!!

    उत्तर देंहटाएं

स्वागत है

नेटवर्क ब्लॉग मित्र